hinditoper.com

hinditoper.com
पहलवान की ढोलक

पहलवान की ढोलक के प्रश्न उत्तर MCQ PDF | पहलवान की ढोलक कहानी सारांश

पहलवान की ढोलक कहानी

फणीश्वर नाथ रेणु का जीवन परिचय

जन्म : 4 मार्च, सन् 1921, औराही हिंगना (जिला पूर्णिया अब अररिया) बिहार में

निधन : 11 अप्रैल, सन् 1977 पटना में

प्रमुख रचनाएँ: मैला आँचल, परती परिकथा, दीर्घतपा, जुलूस, कितने चौराहे (उपन्यास); ठुमरी, अगिनखोर, आदिम रात्रि की महक, एक श्रावणी दोपहरी की धूप (कहानी-संग्रह); ऋणजल धनजल, वनतुलसी की गंध, श्रुत- अश्रुत पूर्व (संस्मरण); नेपाली क्रांति कथा (रिपोर्ताज); तथा रेणु रचनावली (पाँच खंडों में समग्र)

फणीश्वर नाथ रेणु जी की पंक्तियां

कुछ ऐसे चरित्र होते हैं जो प्राण-प्रतिष्ठा पाते ही अपने सिरजनहार के बंधे-बँधाए नियम-कानून, नीति अथवा फ़ार्मूले को तोड़कर बाहर निकल आते हैं और अपने जीवन को अपने मन के मुताबिक गढ़ने लगते हैं।

सन् 1954 में उनका बहुचर्चित आंचलिक उपन्यास मैला आँचल प्रकाशित हुआ जिसने हिंदी उपन्यास को एक नयी दिशा दी। हिंदी जगत में आंचलिक उपन्यासों पर विमर्श मैला आँचल से ही प्रारंभ हुआ

पहलवान की ढोलक के प्रश्न उत्तर

पहलवान की ढोलक के प्रश्न उत्तर MCQ –

1. गांव में कौनसी बीमारी फैली थी?

मलेरिया और हैजा

2. रात्रि की भीषणताओ को कौन ललकारती रहती थी?

पहलवान की ढोलक

3. पहलवान का नाम क्या था?

लुट्टन सिंह पहलवान

4. पहलवान की ढोलक कब से कब बजती रहती थी?

संध्या से लेकर प्रातः काल तक

5. चट् धा, गिढ़ धा, …….. चट् धा, गिढ़ धा, का अर्थ क्या है?

आ जा भिड़ जा, आ जा भिड़ जा

6. चटाक् चट् धा, चटाक् चट् धा, यानी क्या होता है?

उठाकर पटक दे। उठाकर पटक दे

7. लुट्टन सिंह पहलवान के माता पिता का देहांत हुआ था जब पहलवान की क्या आयु थी?

9 वर्ष की

8. लुट्टन सिंह पहलवान को किसने पाल पोस कर बड़ा किया?

उसकी विधवा सास ने

9. लुट्टन सिंह पहलवान बचपन में क्या करता था?

गाय चराता, धारोष्ण दूध पीता और कसरत किया करता था

10. लुट्टन सिंह पहलवान अपने दोनों हाथों को किस डिग्री तक फैलता था?

45° तक

11. लुट्टन सिंह पहलवान कुश्ती लड़ता था?

सत्य

12. लुट्टन सिंह पहलवान दंगल देखने कहा गया?

श्याम नगर

13. लुट्टन सिंह पहलवान ने किसको दंगल में चुनौती दे दी?

शेर के बच्चे को

14. शेर के बच्चे का असल नाम क्या था?

चांद सिंह

15. चांद सिंह के गुरु का नाम क्या था?

पहलवान बादल सिंह

16. श्याम नगर के पहले पहल चांद सिंह और उसके गुरु जी कहा गए थे?

पंजाब

17. चांद सिंह ने शेर का बच्चा की ख्याति कहा से प्राप्त की?

पंजाब से

18. कितने दिनों में चांद सिंह ने अपनी पहलवानी की छाप पंजाब में छोड़ दी थी?

3 दिन में

19. अपनी टायटिल को सत्य प्रमाणित करने के लिए चांद सिंह क्या करता था?

कुश्ती के बीच बीच में दहाड़ता था

20. राजा साहब ने पहलवान लुट्टन सिंह को कितने रुपए दिए?

10 रुपए

21. 10 रुपए देकर राजा साहब ने पहलवान से क्या कहा?

मेला देखकर घर जाओ…

22. पहलवान को कुश्ती न करने के लिए किस किसने धमकाया?

मैनेजर साहब से लेकर सिपाहियो ने भी

23. ढाक् ढीना, ढाक् ढीना, ढाक् ढीना का अर्थ है?

वाह पट्ठे! वाह पट्ठे!!

24. चट् गिड़ धा, चट् गिड़ धा, चट् गिड़ धा, का अर्थ क्या होता है?

मत डरना, मत डरना

25. राजमत और बहुमत किसके पक्ष में था?

चांद सिंह पहलवान के

26. लुट्टन सिंह पहलवान के पक्ष में कौन था?

सिर्फ ढोल की आवाज

27. लुट्टन सिंह पहलवान कुश्ती में अपनी हिम्मत किसके बड़ा रहा था?

ढोल की आवाज सुन सुनकर

28. धाक धिना, तिरकट तीना, धाक धिना, तिरकट तीना, का अर्थ क्या है?

दांव काटो, बाहर हो जा दांव काटो, बाहर हो जा !!

29. धीना धीना धिक धीना! अर्थात्?

चित करो चित करो!!

30. श्याम नगर के राजा का नाम क्या था?

श्यामानंद जी

31. धा गिड गुड, धा गिड गुड, धा गिड गुड, का अर्थ है?

वाह बहादुर! वाह बहादुर!! वाह बहादुर!!!

32. अपनी इच्छानुसार जनता ने किस किस की जय ध्वनि की?

मां दुर्गा की, महावीर जी की और किसी ने तो राजा श्यामानंद की, अंत में सबने सम्मिलित होकर जय! की

33. अंत में जीत किसकी हुई?

पहलवान लुट्टन सिंह की

34. विजयी होकर लुट्टन सिंह पहलवान सबसे पहले कहा गया?

ढोलो के पास

35. पहलवान लुट्टन सिंह ने ढोलो को क्या किया?

प्रणाम

36. लुट्टन सिंह पहलवान ने किसको गोद में उठा लिया?

राजा साहब को

37. राजा साहब के कीमती कपड़े किसमे सन गए?

मिट्टी में

38. लुट्टन सिंह पहलवान के जितने पर राजा साहब ने क्या कहा?

जीते रहो, बहादुर! तुमने मिट्टी की लाज रख ली!

39. राजा साहब के कीमती कपड़े खराब होने पर कौन पहलवान पर चिल्लाया?

मैनेजर

40. चांद सिंह के आंख के आंसू कौन पोंछ रहे थे?

पंजाबी पहलवानों की जमायत

41. राजा साहब पहलवान को क्या कहकर बुलाते थे?

लुट्टन सिंह

42. राजा साहब ने पहलवान को किससे सम्मानित किया?

अपने राजमहल में पहलवान को राज पहलवान घोषित कर

43. लुट्टन सिंह पहलवान ने किस नामी पहलवान को हराया था?

काला खां को

44. राज पहलवान बनने के बाद लुट्टन सिंह के साथ क्या हुआ?

अच्छे से खान पान होने लगा और उसकी ख्याति दूर दूर तक फैल गई

45. लुट्टन सिंह ने काला खां को चित कर किसका भ्रम तोड़ दिया?

लोगों का जो उससे डरते थे

46. पहलवान लुट्टन सिंह के कितने बेटे थे?

2

47. लोग लुट्टन सिंह पहलवान के बेटों को देखकर क्या कहते?

बाप से भी बड़कर बेटे निकलेंगे

48. पहलवान लुट्टन सिंह कितने वर्ष तक अजेय रहा?

15 वर्ष तक

49. पहलवान के दोनों बेटे को राजा साहब ने क्या किया?

राज दरबार के भावी पहलवान घोषित

50. पहलवान लुट्टन सिंह दोनों बेटों को किससे कसरत करवाता?

ढोल से

51. दोनों बेटों को पहलवान सांसारिक ज्ञान की शिक्षा कब देता?

दोपहर में

52. पहलवान लुट्टन सिंह का गुरु कौन था?

ढोल

53. पहलवान की शिक्षा दीक्षा पर पानी कब फिर गया?

नए राजकुमार के आ जाने पर

54. दंगल का स्थान किसने ले लिया था?

घोड़े किस रेस ने

55. पहलवान गांव आने के बाद किसको कुश्ती सीखने लगा?

नौजवानों को और चरवाहों को

56. गांव पर क्या क्या समस्या आन पड़ी?

पहले अनावृष्टि, फिर अन्न की कमी और मलेरिया तथा हैजा

57. गांव के लोगों के लिए संजीवनी का कौन काम करता था?

पहलवान की ढोलक

58. दोनों पहलवान बेटे जब काल की चपेटघाट में आ पड़े तो उन्होंने पहलवान से कौनसा ताल बजाने को कहा?

उठा पटक दे!

59. पहलवान ने अपने बेटों की लाशे कहा बहाई?

नदी में

60. अपने दोनों बेटों की मृत्यु वाले दिन पहलवान लुट्टन सिंह ने क्या पहना?

श्यामानंद की दी हुई रेशमी जांघिया

61. बेटों की मृत्यु के कितने दिनों बाद पहलवान की भी मृत्यु हो गई?

चार पांच दिन बाद

62. पहलवान की लाश को किसने जा कर देखा?

पहलवान के शिष्यों ने

63. पहलवान ने अपने शिष्यों से क्या कहा था?

जब मैं मर जाऊ तो मुझे चित्त नहीं पेट के बल सुलाना क्युकी पहलवान उसके जीवन काल में कभी भी चित्त नहीं हुआ था

64. पहलवान की अंतिम इच्छा क्या थी?

जब वह मर जाए तो उसकी चिता सुलगाते समय ढोलक बजा दी जाए

65. पहलवान लुट्टन सिंह ने अपनी इच्छाओं को किसे बताया था?

अपने शिष्यों को

66. वह काली रात जब चंद्रमा दिखाई नही देता?

अमावस्या

67. श्यामनगर के राजा साहब को कौन कौन से शोक थे?

दंगल देखने का और शिकार करने का

68. बादल सिंह अपने शिष्य चांद सिंह को क्या कहकर उत्साहित कर रहा था?

वही दफना दे, बहादुर

69. चित्त शब्द का अर्थ है?

हरा देना

70. रात्रि की वीभीषिका को कौन चुनौती देती थी?

पहलवान की ढोलक

71. डेढ़ हाथ का कलेजा होना मुहावरे का अर्थ है?

सहनशील होना

72. राज दरबार का दर्शनीय जीव कौन था?

पहलवान लुट्टन सिंह

73. किसमें परिस्थिति को ताड़ने की एक विशेष बुद्धि होती है?

कुत्तों में

74. बच्चें कभी कभी निर्बल कंठो से क्या पुकारकर रो पड़ते थे?

मां मां

75. किस कथाकार ने गद्य में भी संगीत को पैदा के दिया?

फणीश्वर नाथ रेणु ने

76. हिंदी का प्रथम आंचलिक उपन्यासकार किसे माना जाता है?

फणीश्वर नाथ रेणु जी को

77. पहलवान की ढोलक कहानी के रचना कर कौन है?

फणीश्वर नाथ रेणु जी

78. फणीश्वर नाथ रेणु जी किस प्रकार के उपन्यासकार थे?

आंचलिक

79. रेणु रचनावली कितने खंडों में प्रकाशित है?

5 खंडों में

80. नेपाली क्रांति कथा फणीश्वर नाथ रेणु जी की कौनसी विधा है?

रिपोर्ताज

81. पहलवान की ढोलक की विधा है?

कहानी

पहलवान की ढोलक पाठ का सारांश

पहलवान की ढोलक’ कहानी व्यवस्था के बदलने के साथ लोक-कला और इसके कलाकार के अप्रासंगिक हो जाने की कहानी है। राजा साहब की जगह नए राजकुमार का आकर जम जाना सिर्फ़ व्यक्तिगत सत्ता-परिवर्तन नहीं, बल्कि जमीनी पुरानी व्यवस्था के पूरी तरह उलट जाने और उस पर सभ्यता के नाम पर एकदम नई व्यवस्था के आरोपित हो जाने का प्रतीक है।

प्रश्नों के उत्तर (FAQs)

पहलवान की ढोलक पाठ में पहलवान का नाम क्या था?

लुट्टन सिंह पहलवान

पहलवान की ढोलक पाठ में पहलवान लुट्टन सिंह के कितने बेटे थे?

दो बेटे

पहलवान की ढोलक पाठ के रचनाकार कौन है?

फणीश्वर नाथ रेणु

फणीश्वर नाथ रेणु किस प्रकार के उपन्यासकार है?

आंचलिक उपन्यासकार

पहलवान की ढोलक पाठ की विधा कौनसी है?

कहानी

पहलवान की ढोलक पाठ में कौन कौनसी बीमारियां फैली हुई थी?

हैजा और मलेरिया

1 thought on “पहलवान की ढोलक के प्रश्न उत्तर MCQ PDF | पहलवान की ढोलक कहानी सारांश”

  1. Pingback: काले मेघा पानी दे पाठ | kale Megha Pani de question answer

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *