hinditoper.com

hinditoper.com
ek kutta aur ek maina question answers

एक कुत्ता और एक मैना / ek kutta aur ek maina question answers

ek kutta aur ek maina question answers इस लेख में विस्तृत रूप से दिए गए हैं तथा एक कुत्ता और एक मैना इस पाठ से जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारियां भी विस्तृत रूप से दी गई है।

लेखक हजारी प्रसाद द्विवेदी जी का परिचय

हजारीप्रसाद द्विवेदी का जन्म सन् 1907 में गाँव आरत दूबे का छपरा, जिला बलिया (उत्तर प्रदेश) में हुआ। उन्होंने उच्च शिक्षा काशी हिंदू विश्वविद्यालय से प्राप्त की तथा शांतिनिकेतन, काशी हिंदू विश्वविद्यालय एवं पंजाब विश्वविद्यालय में अध्यापन-कार्य किया। सन् 1979 में उनका देहांत हो गया।

साहित्य का इतिहास, आलोचना, शोध, उपन्यास और निबंध लेखन के क्षेत्र में द्विवेदी जी का योगदान विशेष उल्लेखनीय है।

चार उपन्यास, बाणभट्ट की आत्मकथा, चारूचन्द्र लेख, पुनर्नवा, अनामदास का पोथा और आलोचना साहित्य – हिंदी साहित्य का उद्भव और विकास, हिंदी साहित्य की भूमिका, कबीर उनकी प्रसिद्ध कृतियाँ हैं। उन्हें साहित्य अकादमी पुरस्कार एवं पद्मभूषण अलंकरण से सम्मानित किया गया।

द्विवेदी जी ने साहित्य की अनेक विधाओं में उच्च कोटि की रचनाएँ कीं। उनके ललित निबंध विशेष उल्लेखनीय हैं। जटिल, गंभीर और दर्शन प्रधान बातों को भी सरल, सुबोध एवं मनोरंजक ढंग से प्रस्तुत करना द्विवेदी जी के लेखन की विशेषता है। उनका रचना-कर्म एक सहृदय विद्वान का रचना – कर्म है जिसमें शास्त्र के ज्ञान, परंपरा के बोध और लोकजीवन के अनुभव का सृजनात्मक सामंजस्य है।

एक कुत्ता और एक मैना पाठ परिचय

एक कुत्ता और एक मैना निबंध में न केवल पशु-पक्षियों के प्रति मानवीय प्रेम प्रदर्शित है, बल्कि पशु-पक्षियों से मिलने वाले प्रेम, भक्ति, विनोद और करुणा जैसे मानवीय भावों का विस्तार भी है।

इसमें रवींद्रनाथ की कविताओं और उनसे जुड़ी स्मृतियों के सहारे गुरुदेव की संवेदनशीलता, आंतरिक विराटता और सहजता के चित्र तो उकेरे ही गए हैं, पशु-पक्षियों के संवेदनशील जीवन का भी बहुत सूक्ष्म निरीक्षण है। यह निबंध सभी जीवों से प्रेम की प्रेरणा देता है।

ek kutta aur ek maina question answers

1. एक कुत्ता और एक मैना किसकी रचना है?

हजारी प्रसाद द्विवेदी

2. हजारी प्रसाद द्विवेदी का जन्म कहां हुआ था?

बलिया, उत्तरप्रदेश

3. हजारी प्रसाद द्विवेदी का जन्म कब हुआ था?

सन् 1907 में

4. अशोक के फूल किनकी रचना है?

हजारी प्रसाद द्विवेदी

5. हजारी प्रसाद द्विवेदी का देहांत कब हुआ?

सन् 1979

6. हजारी प्रसाद द्विवेदी जी ने अपनी उच्च शिक्षा कहा से प्राप्त की?

काशी हिन्दू विश्वविद्यालय

7. भारत सरकार द्वारा कौनसा सम्मान हजारी प्रसाद द्विवेदी को प्राप्त है?

पद्मभूषण

8. एक कुत्ता और एक मैना की विधा है?

निबंध

9. एक कुत्ता और एक मैना निबंध में किसका विस्तार है?

पशु पक्षियों के प्रति मानवीय प्रेम

10. एक कुत्ता और एक मैना निबंध क्या प्रेरणा देता है?

सभी जीवों से प्रेम और करुणा

11. शांतिनिकेतन की स्थापना किसने की थी?

देवेंद्रनाथ टैगोर ने

12. रवींद्रनाथ टैगोर को लेखक क्या कहते थे?

गुरुदेव

13. लेखक जब गुरुदेव के पास जाते तो गुरुदेव क्या कहते?

दर्शनार्थी है क्या?

14. क्षीणवपु का क्या अर्थ है?

दुबला पतला, कमजोर शरीर

15. रविन्द्र नाथ टैगोर के पिता का नाम क्या था?

देवेंद्रनाथ टैगोर

16. रविन्द्र नाथ टैगोर की माता का नाम क्या था?

शारदा देवी

17. सर्वव्यापक का शाब्दिक अर्थ क्या है?

सबमें रहने वाला

18. जिसकी पत्नी न हो?

विधुर

19. जिसका पति न हो?

विधवा

20. पति – पत्नी दोनों के लिए एक शब्द बताए?

दंपत्ति

21. रवींद्रनाथ टैगोर कहां रहते थे?

श्रीनिकेतन के पुराने तिमंजिले मकान में

22. कुत्ते को लक्ष्य मानकर गुरुदेव ने कविता लिखी थी?

आरोग्य में

23. आरोग्य क्या है?

बांग्ला भाषा की एक पत्रिका

एक कुत्ता और एक मैना पाठ के शब्दार्थ

अस्तगामी – डूबता हुआ

परितृप्ति – पूर्ण रूप से संतोष प्राप्त

अहैतुक – अकारण

प्राणपण – जान की बाजी

मर्मभेदी – दिल को लगने वाला

तितल्ले – तीसरी मंजिल

धृष्ट – लज्जा रहित

यूथ भ्रष्ट – समूह से निकाला हुआ

अपरिसिम – असीमित

अभियोग – आरोप

एक कुत्ता और एक मैना का सारांश

Ek kutta aur ek mena पाठ की विधा निबंध है। जिसके लेखक हजारी प्रसाद द्विवेदी जी है। एक कुत्ता और एक मैना निबंध में हजारी प्रसाद द्विवेदी जी ने रविन्द्र नाथ टैगोर जी का उल्लेख किया है। रविन्द्र नाथ टैगोर जिन्हे गुरुदेव के नाम से भी जाना जाता है। उनके निवास में एक कुत्ता और एक मैना रहती थी। उन दोनों से गुरुदेव बहुत स्नेह करते थे।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *