hinditoper.com

hinditoper.com
SWOT Analysis

SWOT Analysis क्या है | SWOT विश्लेषण कैसे करते हैं | SWOT Analysis in Hindi

swot analysis in Hindi के बारे में संपूर्ण जानकारी दी गई है कुछ मुख्य बिंदु जैसे -SWOT Analysis क्या है। SWOT विश्लेषण कैसे करते हैं। SWOT विश्लेषण का महत्व आदि विस्तृत रूप से दिए गए हैं।

SWOT Analysis क्या है-What is SWOT analysis

डिजिटल मार्केटिंग के क्षेत्र में अपना व्यवसाय शुरू करने से पहले या किसी उत्पाद का आकलन करते समय SWOT Analysis करने से आपको यह समझ आ जाता है कि आप बाजार में कहां खड़े हैं और आप अपने व्यवसाय के अंदर विशाल मात्रा में अवसरों को कैसे बना सकते हैं। मार्केटिंग अभियान में पैसे लगाने से पूर्व SWOT Analysis पर एक बार ध्यान देना चाहिए।

SWOT full form | SWOT Analysis में 4 शब्द क्या हैं?

SWOT का पूरा रूप है “शक्तियाँ (Strengths), कमजोरियाँ (Weaknesses), अवसर (Opportunities), और खतरे (Threats)”। यह एक ऐसा योजनात्मक विश्लेषण है जिसका उपयोग व्यापार उत्पाद या परियोजना की स्थिति का मूल्यांकन करने के लिए किया जाता है। 

SWOT full form –

  • S = Strengths (शक्तियाँ)
  • W = Weaknesses (कमजोरियाँ)
  • O = Opportunities (अवसर)
  • T = Threats (खतरे)

SWOT Analysis

“शक्तियाँ” (Strengths) –  शक्तियां इसमें स्वयं व्यवसाय या किसी संगठन के सकारात्मक पहलुओं का मूल्यांकन किया जाता है।  इसमें उस व्यवसाय के मुख्य पहलुओं को चिन्हित किया जाता है।  जिससे वह अपने क्षेत्र में आगे बढ़ सकता है। 

कमजोरियाँ (Weaknesses) – कमजोरियां इसमें व्यापार की कमजोरी को खोजा जाता है। इसमें यह पता लगाया जाता है, कि व्यापार के कौन-कौन से कमजोर पहलु है। उनका मूल्यांकन किया जाता है। इसमें स्पष्ट होता है, कि कौन-कौन सी क्षमताएं व्यापार में रुकावटें प्रदान कर रही है। उन्हें कैसे सुधारा जा सकता है।

अवसर (Opportunities) – अवसर इसमें व्यापार स्वयं की और अन्य की सकारात्मक परिस्थितियों का मूल्यांकन करता है। इससे यह सामने आ जाता है, कि बाजार में कौन-कौन से अवसर है। उन्हें कैसे पहचाने और उन पर कैसे कार्य किया जाए।

खतरे (Threats) – खतरे इसमें संगठन या व्यवसाय में आने वाली कठिनाइयां व खतरों का आकलन किया जाता है। यह समझने में मदद करता है, कि कौन-कौन सी समस्याएं आ सकती है और उनसे कैसे निपटा जा सकता है।

SWOT विश्लेषण का उपयोग करके व्यवसाय अपनी स्थितियों को समझ सकते हैं। वह उसके अनुसार रणनीतियां तैयार कर सकते हैं। जो व्यवसाय को उसके लक्ष्य प्राप्ति में मदद करती है। इससे यह सुनिश्चित हो जाता है, कि व्यवसाय अपनी पूरी क्षमता से लक्षण की प्राप्ति की दिशा में कदम उठा सकता है। व्यवसाय अपनी सफलता की ओर बढ़ सकता है।

SWOT विश्लेषण के कारकों को समझाइए

 4 विशेषताओं को दो कारको (factors) में विभाजित किया गया है

आंतरिक कारक (factors)

आंतरिक कारक (factors) – आंतरिक फैक्टर के अंतर्गत व्यवसाय, उत्पाद या सेवा की ताकत, कमजोरी आती है। इसमें आपकी उत्पाद की गुणवत्ता, अनूठा बिक्रि प्रस्ताव, टीम की ताकत, मार्केटिंग रणनीतियां आदि शामिल है। 

आपको उन विशिष्ट ताकत हो या कमजोरी की सूची तैयार करनी होगी तथा विश्लेषण में आपको तय करना होगा, कि व्यवसाय की कमजोरी या ताकत आप क्या मानते हैं। यह कुछ आंतरिक कारक होते हैं। जिन पर हमारा सीधा नियंत्रण होता है। यह ऐसी चीज है। जिन्हें हम आंतरिक रूप से लागू कर सकते हैं। सुधार वह बदलाव कर सकते हैं।

बाहरी कारक (factors)

बाहरी कारक (factors) – SWOT विश्लेषण में बाहरी श्रेणी के अंतर्गत अवसर और खतरे आते हैं। यह ऐसे हैं, जिन पर आपका प्रत्यक्ष नियंत्रण नहीं होता है। लेकिन आप बाजार के अवसर और खतरों को समझ कर आप अपने दृष्टिकोन वएक रणनीति तैयार करके अपने व्यवसाय को अप्रत्यक्ष रूप से आगे बढ़ा सकते हैं। व्यवसाय में अवसर व खतरे आपके पास प्रतिस्पर्धा या सेवा की आवश्यकता होती है।

SWOT विश्लेषण कैसे करते हैं?

SWOT विश्लेषण करने के लिए निम्न चरणों का पालन करना होता है यहां कुछ मुख्य चरण दिए गए हैं-

ताकत निर्धारित करें (Strengths)

  • आपका व्यापार दूसरे से बेहतर कैसे है?
  • आपके ग्राहक क्या लाभ उठा सकते हैं?
  • आपके लिए कौन से गुणवत्तपूर्ण या लागत  प्रभावी संसाधन उपलब्ध है जो दूसरे के पास नहीं है?
  • किन कारकों की वजह से परिणाम स्वरूप निश्चित बिक्री होती है?
  • प्रतिस्पर्धी आपकी कंपनी की ताकत क्या मानते हैं?
  • आपका दूसरा व्यापार बिंदु क्या है?

कमजोरी का निर्धारण करें (Weaknesses)  –

  • किन आंतरिक प्रक्रियाओं में सुधार करने की आवश्यकता है?
  • आपके काम के बारे में क्या कहते हैं ग्राहक और क्या सुधार की जरूरत है?
  • बिक्री के नुकसान में कौन से कारक योगदान करते हैं?
  • प्रतिस्पर्धी आपकी कंपनी को क्या कमजोरी बताते हैं?
  • किन गतिविधियों से बचना चाहिए?

अवसर खोजें (Opportunities)   – 

  • क्या कोई ऐसा दिलचस्पी रुझान है जिसमें आप लाभ प्राप्त कर सकते हैं?
  • क्या कोई अच्छे अवसर मौजूद है?
  • अवसर अलग-अलग तरीकों से प्रकट हो सकते हैं उदाहरण के लिए एक सरकारी नीति जो आपके उद्योग की मदद कर सकती है जीवन शैली, जनसंख्या, आर्थिक और सामाजिक प्रतिमानों  में परिवर्तन आदि।

खतरे क्या हैं (Threats)

  • क्या कोई सरकारी विनियमन आपके व्यवसाय को नुकसान पहुंचा सकता है?
  • क्या कोई प्रौद्योगिकी परिवर्तन आपके उत्पाद को अप्रचलित बना सकता है?
  • क्या प्रतिस्पर्धी बेहतर उत्पाद/सेवा पर काम कर रहे हैं?
  • क्या आपके पास खराब ऋण के मुद्दे पर नकदी प्रवाह है?

Developed a strategy (एक रणनीति विकसित की)

जब आप ऑनलाइन मार्केटिंग SWOT विश्लेषण समाप्त कर लेते हैं। तो अब आपको इन्हें लागू और दीर्घकालिक रणनीतियों में बदलने का समय आ जाता है।

TOWs विश्लेषण का उपयोग आप यह निर्धारित करने के लिए कर सकते हैं। की अवसरों को अधिकतम करने और खतरों को कम करने के लिए आपके व्यवसाय की आंतरिक शक्तियों का कैसे उपयोग कर सकते हैं

SWOT विश्लेषण का महत्व

SWOT विश्लेषण का महत्व विभिन्न क्षेत्रों में होता है, जो इस प्रकार है-

रणनीति निर्धारण SWOT विश्लेषण के माध्यम से आप अपने व्यापार या संगठन के लिए उनकी शक्तियों को पहचान सकते हैं। और सहीरणनीति निर्धारण करके उसे आगे बढ़ा सकते हैं।

विभिन्न समस्याओं की पहचान –  SWOT विश्लेषण से कमजोरी और खतरों की पहचान होती है। जिस व्यवसाय विभिन्न समस्याओं का सामना कर सकता है। इन समस्याओं को सुलझा सकता है।

अवसर की पहचान – व्यापार को आगे बढ़ाने के लिए आवश्यक अवसरों की पहचान SWOT Analysis के माध्यम से की जा सकती है। जिससे व्यापार को आगे एवं नहीं गहराइयों तक पहुंचा जा सकता है।

वित्तीय नियोजन – SWOT Analysis के माध्यम से व्यवसाय अपने वित्तीय संसाधनों का उपयोग कैसे कर सकता है। और उन्हें कैसे सुरक्षित रख सकता है। इसके माध्यम से समझा जा सकता है।

 प्रबंधन योजना – SWOT Analysis के माध्यम से आप प्रबंधन योजना बना सकते हैं। जिससे व्यापार अपने लक्ष्यों की प्राप्ति की दिशा में आगे कदम बढ़ा सकते हैं।

रचनात्मक प्रगति – SWOT विश्लेषण से व्यवसाय को अपनी रचनात्मक प्रगति में सुधार करने के लिए आवश्यक बदलावों के लिए पहचाना जा सकता है। जिससे कार्य क्षमता में वृद्धि हो सकती है।

SWOT Analysis in Hindi FAQ’s

स्वॉट एनालिसिस से आप क्या समझते हैं?

SWOT Analysis करने से आपको यह समझ आ जाता है कि आप बाजार में कहां खड़े हैं और आप अपने व्यवसाय के अंदर विशाल मात्रा में अवसरों को कैसे बना सकते हैं। मार्केटिंग अभियान में पैसे लगाने से पूर्व SWOT Analysis पर एक बार ध्यान देना चाहिए।

SWOT विश्लेषण में 4 शब्द क्या हैं?

S = Strengths (शक्तियाँ)
W = Weaknesses (कमजोरियाँ)
O = Opportunities (अवसर)
T = Threats (खतरे)

SWOT की सबसे अच्छी परिभाषा क्या है?

SWOT का पूरा रूप है “शक्तियाँ (Strengths), कमजोरियाँ (Weaknesses), अवसर (Opportunities), और खतरे (Threats)”। यह एक ऐसा योजनात्मक विश्लेषण है जिसका उपयोग व्यापार उत्पाद या परियोजना की स्थिति का मूल्यांकन करने के लिए किया जाता है। 

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *